यार बदल ना जाना मौसम की तरह...फिल्मी तर्ज आधारित सुंदर भजन | Mukesh Kumar Bhakti Song | New Lyrics


 भजन : भाभी मांगे देवर

तर्ज: यार बदल जाना

गायक: मुकेश कुमार

संगीत : आशीष शर्मा

वीडियो: अनिता मीना

लिरिक्स: ट्रेडीशनल

लेबल : mkm bhajans

_______________________________________

          भजन के बोल


माँ की ममता माँ से मांगे

मुझे पुत्र मिले श्रवण की तरह

भाभी मांगे देवर लक्ष्मण की तरह


गुरु बिन ज्ञान कहां से लाऊं,गुरु से बढ़कर कोई नहीं

भव सागर से तार दे सबको,शक्ति जगत में कोई नहीं

गुरुजी मांगे मुझे शिष्य मिले

मुझे शिष्य मिले एकलव्य की तरह


जब जब भीड़ पड़ी बहना पर दौड़े दौड़े आते हैं

परम् कृपा कर अपनों पर ये सबकी लाज बचाते हैं

बहना मांगे मुझे भाई मिलेx2 

मुझे भाई मिले कृष्णा की तरह


आते जाते घर मे ये मेहमान भी अच्छे लगते हैं

रूप प्रभु का होता है मेहमान ये वेद भी कहते हैं

हम मांगे यही मेहमान मिले

मेहमान मिले सुदामा की तरह


0 Comments